Categories

Tags

Chanakya Quotes

The most valuable scholar and philosopher of his time, Acharya Chanakya, has valuable ideas even today. Every thought of Chanakya fits the test of life very accurately.

Chanakya’s thoughts are not just like ordinary motivational thoughts, but they are tested in every way, such precious words which if a person takes off in his life, he can never fail.

Priceless thoughts of Acharya Chanakya

समय का कोई मूल्य नहीं है, इससे लाभ उठाने वाले ही आगे बढ़ते है

अपने ईमान और धर्म बेचकर कर कमाया गया धन अपने किसी काम का नहीं होता, अत: उसका त्याग करें, आपके लिए यही उत्तम है

जो व्यक्ति शक्ति न होते हुए भी मन से हार नहीं मानता,
उसको दुनिया की कोई भी ताकत हरा नहीं सकती है

चन्द्रगुप्त : किस्मत पहले ही लिखी जा चुकी है, तो कोशिश करने से क्या मिलेगा
चाणक्य : क्या पता किस्मत मैं लिखा हो की कोशिश से ही मिलेगा

परिश्रम वह चाबी है, जो किस्मत का दरवाजा खोल देती है

अपमानित होकर जीने से अच्छा मरना है, मृत्यु तो बस एक क्षण का दुःख देती है, लेकिन अपमान हर दिन जीवन में दुःख लाता है

भूख के समान कोई दूसरा शत्रु नहीं है

वह जो हमारे चिंतन में रहता है वह करीब है, भले ही वास्तविकता में वह बहुत दूर ही क्यों ना हो; लेकिन जो हमारे ह्रदय में नहीं है वो करीब होते हुए भी बहुत दूर होता है

सांप के फन, मक्खी के मुख में और बिच्छु के डंक में ज़हर होता है; पर दुष्ट व्यक्ति तो इससे भरा होता है

बुद्धिमान व्यक्ति का कोई दुश्मन नहीं होता

फूलों की सुगंध केवल वायु की दिशा में फैलती है. लेकिन एक व्यक्ति की अच्छाई हर दिशा में फैलती है

संसार में न कोई तुम्हारा मित्र है न शत्रु, तुम्हारा अपना विचार ही, इसके लिए उत्तरदायी है

ऐसे व्यक्ति जो आपके स्तर से ऊपर या नीचे के हैं उन्हें दोस्त न बनाओ, वह तुम्हारे कष्ट का कारण बनेगे, हमेशा सामान स्तर के मित्र ही सुखदाई होते हैं

हर मित्रता के पीछे कोई स्वार्थ जरूर होता है – यह कड़वा सच है

किसी भी व्यक्ति को बहुत ईमानदार और सीधा साधा नहीं होना चाहिए क्यूंकि सीधे वृक्ष और व्यक्ति पहले काटे जाते हैं

अज्ञानी के लिए किताबें और अंधे के लिए दर्पण एक सामान उपयोगी है

दुनिया की सबसे बड़ी ताकत पुरुष का विवेक और महिला की सुन्दरता है

व्यक्ति अपने कर्मों से महान होता है, अपने जन्म से नहीं

दान देने से दरिद्रता दूर होती है

भगवान मूर्तियों में नहीं है, आपकी अनुभूति आपका ईश्वर है, आत्मा ही आपका मंदिर है

कोई भी काम शुरू करने के पहले तीन सवाल अपने आपसे पूछो – मैं ऐसा क्यों करने जा रहा हूँ ? इसका क्या परिणाम होगा ? क्या मैं सफल रहूँगा?

अपने रहस्यों को किसी से भी उजागर मत करो। यह आदत आपके स्वयं के लिए ही घातक सिद्ध होगी

व्यक्ति के मन में क्या है, यह उसके व्यवहार से प्रकट हो जाता है

जो व्यक्ति शक्ति न होने पर भी मन में हार नहीं मानता उसे संसार की कोई भी ताकत परास्त नहीं कर सकती

दूसरो की गलतियों से सीखो अपने ही ऊपर प्रयोग करके सीखने को तुम्हारी आयु कम पड़ जाएगी

कुबेर भी अगर आय से ज्यादा व्यय करे, तो कंगाल हो जाता है

Wait a little, it may have taken you only 5 minutes to read the idea for Chanakya, but if you have taken one of these ideas in your life, then five minutes are going to be one of the best times of your life for today.

Tell the thoughts of great scholars like Chanakya, to your children and other family members as well.

Leave a Reply

Story Details Details Like 1

Share it on your social network:

Or you can just copy and share this url
Related Posts